Vande Gujarat News
Breaking News
Breaking News Election India National Political World News

भारतीय मूल के इन दो लोगों को बाइडेन कैबिनेट में मिल सकती है जगह

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र अमेरिका में एक लंबी प्रक्रिया के बाद राष्ट्रपति का चुनाव खत्म हो गया है. अमेरिका ने बाइडेन के रूप में अपना 46वां राष्ट्रपति चुना और इतिहास में पहली बार महिला उपराष्ट्रपति कमला हैरिस चुनी गई हैं. अब लोगों के बीच चर्चा का विषय बाइडेन का प्रशासन और टीम है. इसी बीच चर्चा है कि बाइडेन की कैबिनेट में भारतीय मूल के दो लोगों को जगह मिल सकती है.

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

दरअसल, पीटीआई ने ‘द वॉशिंगटन पोस्ट’ के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में बताया है पूर्व सर्जन जनरल विवेक मूर्ति और अरुण मजूमदार को बाइडन और कमला हैरिस की अगुवाई वाली नई सरकार की कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है. विवेक मूर्ति स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री बनाए जा सकते हैं और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अरुण मजूमदार को ऊर्जा मंत्री बनाया जा सकता है.

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

कौन हैं विवेक मूर्ति:  
भारतीय मूल के विवेक मूर्ति पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल में अमेरिका के सर्जन जनरल थे. विवेक मूर्ति को हाल ही में जो बाइडन ने कोरोना टास्क फोर्स की जिम्मेदारी दी है. राष्ट्रपति चुनाव में भी उन्‍होंने अपने काम से बाइडन को काफी प्रभावित किया है. वह चुनावी कैंपेन के दौरान बाइडन को लगातार ब्रीफ करते थे. बाइडन कई बार विवेक मूर्ति की सार्वजनिक मंचों पर तारीफ कर चुके हैं.

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

कौन हैं अरुण मजूमदार:  
‘एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट्स एजेंसी-एनर्जी’ के पहले निदेशक अरुण मजूमदार ऊर्जा संबंधी मामलों पर बाइडन के शीर्ष सलाहकार रहे हैं. वे स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर भी हैं.

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

इनके अलावा और भी कई ऐसे भारतवंशी हैं जिन्हें बाइडेन कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है. राज चेट्टी, अमित जानी, संजीव जोशीपुरा, सबरीना सिंह का भी नाम चर्चा में है. फिलहाल सबकी निगाहें इस बात पर है कि बाइडेन की टीम कैसी होगी.

जो बाइडेन कैबिनेट में भारतवंशी!

इससे पहले हाल ही में जो बाइडेन ने अपनी ट्रांजिशन टीम में 20 भारतीय मूल के लोगों को शमिल किया है. ये वो टीम है जिसके माध्यम से वह 20 जनवरी को ली जाने वाली राष्ट्रपति पद की शपथ के बाद अपने कार्यकाल को संभालेंगे. इस टीम में करीब 500 सदस्य हैं. इसे ट्रांजिशन टीम भी कहा जा रहा है.

संबंधित पोस्ट

ચીફ જસ્ટિસની કોર્ટની સુનાવણીના જીવંત પ્રસારણની આજથી શરૂઆત – કોર્ટની વેબસાઇટ અને યુટયૂબ પર

Vande Gujarat News

हिंसा के बीच वॉशिंगटन में कर्फ्यू, कनाडा ने की निंदा, यूएन ने ट्रंप से की ये अपील

Vande Gujarat News

कोरोना के नए स्ट्रेन पर यूपी में अलर्ट, अब तक 10 केस, ब्रिटेन से लौटे 565 लोगों के फोन बंद

Vande Gujarat News

भोपाल गैस कांड: एक ही घटना से मरे 3000 लोगों की आवाज बना था ये शख्स

Vande Gujarat News

દિલ્હીના મહિલા કોન્સ્ટેબલ સીમાએ ત્રણ માસમાં 76 ગુમ બાળકો શોધ્યા, દિલ્હી પોલીસની કામગીરીની દેશભરમાં ચર્ચા

Vande Gujarat News

ઓનલાઈન વિડીયો પ્લેટફોર્મ અને સમાચાર વેબસાઈટ હવે સરકારના નિયંત્રણ હેઠળ

Vande Gujarat News