Vande Gujarat News
Breaking News
Breaking NewsIndiaNationalPoliticalWorld News

चीन को लगेगी मिर्ची! 6 दशक में पहली बार व्हाइट हाउस पहुंचे तिब्बत के राजनीतिक प्रमुख

इस मुलाकात को लेकर सांगाय ने ट्वीट करते हुए लिखा है,”बतौर केंद्रीय तिब्बत प्रशासन के राजनीतिक प्रमुख व्हाइट हाउस में पहली बार औपचारिक प्रवेश पाना गौरव की बात है.” उनकी इस यात्रा को लेकर सीटीए की तरफ से आधिकारिक बयान जारी किया गया है.

तिब्बत को लेकर अमेरिका पर आतंरिक मामलों में दखल का आरोप लगा चुके चीन को अब तिब्बत की निर्वासित सरकार के मुखिया का एक और कदम नागवार गुजर सकता है. तिब्बत की निर्वासित सरकार के प्रमुख डॉ लोबसांग सांगाय ने अमेरिका के निमंत्रण पर व्हाइट हाउस पहुंचे. इस दौरान उन्होंने तिब्बत मामलों के लिए नवनियुक्त अमेरिकी अधिकारी से मुलाकात की. 6 दशक में यह पहली बार है जब सीटीए के प्रमुख को व्हाइट हाउस में आमंत्रित किया गया.

इस मुलाकात को लेकर सांगाय ने ट्वीट करते हुए लिखा है,”बतौर केंद्रीय तिब्बत प्रशासन के राजनीतिक प्रमुख व्हाइट हाउस में पहली बार औपचारिक प्रवेश पाना गौरव की बात है.” उनकी इस यात्रा को लेकर सीटीए की तरफ से आधिकारिक बयान जारी किया गया है.

बयान में कहा गया है कि, डॉ लोबसांग सांगाय की इस यात्रा से सीटीए की लोकतांत्रिक प्रणाली और उसके राजनीतिक प्रमुख दोनों को अहमियत मिलेगी.यह बैठक अभूतपूर्व थी. इससे अमेरिकी अधिकारियों के साथ सीटीए की भागीदारी को लेकर एक आशावादी माहौल तैयार होगा.

तिब्बत के इस कदम से चीन और नाराज हो सकता है. दरअसल, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने 15 अक्टूबर को वरिष्ठ राजनयिक डेस्ट्रो को तिब्बत मामलों के लिए विशेष समन्वय नियुक्त किया था. अमेरिका के इस फैसले से चीन पहले से ही नाराज है और उसने अमेरिका पर चीन के आंतरिक मामलों में दखल देने का आरोप लगाया था. अब तिब्बत के निर्वासित सरकार के प्रमुख का व्हाइट हाउस जाना चीन को और नाराज कर सकता है.

इससे पहले इन दोनों की मुलाकात को लेकर किए गए सवाल पर चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा था कि तिब्बत, चीन का आंतरिक मसला है इस पर किसी बाहरी को दखल नहीं देना चाहिए. चीन ने डेस्ट्रो की नियुक्ति को लेकर भी अमेेरिका पर चीन में अस्थिरता पैदा करने की कोशिश का आरोप लगाया था.

संबंधित पोस्ट

US: जो बाइडेन ने की कैबिनेट की घोषणा, एंटनी ब्लिंकेन होंगे विदेश मंत्री, जेक सुलिवन नए NSA

Vande Gujarat News

લઠ્ઠાકાંડ બાદ ગુજરાતના કયા પૂર્વ મુખ્યમંત્રીએ દારૂબંધી હટાવવાની કરી માંગ? જાણો વિગતે.

Vande Gujarat News

SOU નજીક વિશ્વકક્ષાનું રેલ્વે સ્ટેશન 2 માસ બાદ શરૂ થશે – પશ્ચિમ રેલવેના GMએ ડભોઈ અને કેવડિયાની મુલાકાત લીધી

Vande Gujarat News

લવ જેહાદને પ્રોત્સહન આપનારા અને કરનારા નહિ સુધરો તો રામ નામ સત્યની યાત્રા નીકળશે : યોગી – હાઇકોર્ટના ધર્મ પરિવર્તનના ચુકાદાને ટાંકી કરી ટકોર

Vande Gujarat News

સૌથી પહેલા નેટવર્ક વિહોણા વિસ્તારોમાં શાળા શરૂ કરવા ભરૂચના મોટા ભાગના વાલીઓ એક મત

Vande Gujarat News

72वां गणतंत्र दिवस:गुजरात के खोडलधाम मंदिर में गुजरात का सबसे लंबा 1551 फीट लंबा और 10 फीट चौड़ा राष्ट्रध्वज फहराया गया

Vande Gujarat News