Vande Gujarat News
Breaking News
Breaking NewsBusinessDefenseGovtIndiaNationalScienceTechnology

यूपी के कानपुर में बनेंगे जवानों के लिए नाइट विजन उपकरण, फ्रांस की कंपनी से करार

नाइट विजन उपकरण जवानों को रात के दौरान सीमा पर गश्त करते समय देखने में मदद करते हैं. आधिकारिक बयान के मुताबिक यह परियोजना राज्य में विकसित किए जा रहे उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे का हिस्सा होगी.

Why does the Indian Army soldier not wear night vision glasses? - Quora

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में देश की आर्म्ड फोर्सेज के लिए नाइट विजन उपकरणों की मैन्युफैक्च​रिंग की जाएगी. इसके लिए कानपुर की एमकेयू और फ्रांस के थेल्स ग्रुप के बीच करार हुआ है. प्रदश के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई) मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने यह जानकारी दी है.

उत्तर प्रदेश के MSME मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि फ्रांस की बहुराष्ट्रीय कंपनी थेल्स ग्रुप, कानपुर की एमकेयू के साथ मिलकर सशस्त्र बलों के लिए राज्य में ही ‘नाइट विजन’ उपकरणों की मैन्युफैक्चरिंग करेगी.

Army To Finally Field Most Advanced Night Vision Goggles Yet - Task &  Purpose

सीमा पर गश्त में मदद 

नाइट विजन उपकरण जवानों को रात के दौरान सीमा पर गश्त करते समय देखने में मदद करते हैं. आधिकारिक बयान के मुताबिक यह परियोजना राज्य में विकसित किए जा रहे उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे का हिस्सा होगी.

Does the Indian Army use night vision goggles? - Quora

और निवेश की अपील 

सिद्धार्थनाथ सिंह के पास निर्यात संवर्द्धन और निवेश संवर्द्धन विभाग का भी प्रभार है. एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक सोमवार को उन्होंने नोएडा में थेल्स समूह की भारतीय यूनिट के कॉरपोरेट कार्यालय का उद्घाटन किया. उन्होंने समूह से उत्तर प्रदेश में लड़ाकू विमान के कलपुर्जे बनाने में भी निवेश करने का आग्रह किया और राज्य सरकार की ओर से हर मदद का आश्वासन दिया.

गौरतलब है कि यूपी सरकार हाल के वर्षों में विदेशी निवेश को लेकर काफी सक्रिय दिखी है. उत्तर प्रदेश में पिछले दो साल में इनवेस्टर्स समिट के दौरान और अन्य तरह के 4.28 लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए और अब करीब 43 फीसदी परियोजनाएं अमल में हैं. यही नहीं, कोरोना संकट के दौरान भी यूपी में 45,000 करोड़ रुपये का नया निवेश प्रस्ताव आया है.

यूपी में कोरोना संकट के दौरान निवेश से जुड़े आंकड़े राहत देने वाले हैं. राज्य सरकार ने 40 से अधिक नए निवेश प्रस्तावों को आकर्षित करने में सफलता प्राप्त की है. इनमें जापान, अमेरिका (यूएस), यूनाइटेड किंगडम, कनाडा, जर्मनी, दक्षिण कोरिया आदि 10 देशों की कंपनियों से लगभग 45,000 करोड़ रुपये के निवेश-प्रस्ताव मिले हैं.

संबंधित पोस्ट

સીરમની દૂર્ઘટના સાક્ષીના મોઢે:મજૂર બોલ્યો- અમને 6 લોકોને બચાવવા જ્વાળામાં ઘેરાઈ ગયા સુપરવાઈઝર અને જીવ ગુમાવ્યો, અમે 5માં માળેથી કૂદ્યાં અને બચી ગયા

Vande Gujarat News

पश्चिम बंगाल: बीजेपी के हिंदुत्व की काट में TMC ने चला ‘बंगाली गौरव’ का दांव

Vande Gujarat News

हैदराबाद के किंगमेकर बने ओवैसी, लोकल मैच में AIMIM का सबसे तूफानी स्ट्राइक रेट

Vande Gujarat News

સ્વછતા પખવાડિયાના ભાગરૂપે જેએસએસ ભરૂચ દ્વારા ઓચ્છણ સબ સેન્ટર તાલુકો વાગરા ખાતે કાર્યક્રમો યોજાયા 

Vande Gujarat News

गणतंत्र दिवस पर यूपी की राम मंदिर मॉडल की झांकी ने मारी बाज़ी, मिला पहला पुरस्कार

Vande Gujarat News

राकेश टिकैत बोले- जिस थाने से किसानों को परेशान करेंगे, वहीं बांध देंगे पशु

Vande Gujarat News