Vande Gujarat News
Breaking News
BJP Breaking News Election India National Political

हैदराबाद… भाग्यनगर… इतिहासकारों से जानिए क्या है किस्सा?

हैदराबाद में भाग्यनगर को लेकर कई किस्से और कहानियां कही जाती हैं. सैकड़ों सालों पुरानी एक कहानी के मुताबिक भाग्यनगर के पीछे एक लव स्टोरी है.

हैदराबाद या भाग्यनगर?

क्या हैदराबाद का नाम कभी भाग्यनगर था? क्या हैदराबाद के सैकड़ों सालों के इतिहास में किसी भाग्यनगर का जिक्र आता है? क्या वजह है कि हैदराबाद की चुनावी रैली में पहुंचे योगी ने हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर रखने की बात कही? आखिर भाग्यनगर की कहानी क्या है?

हैदराबाद में नगर निगम चुनाव चल रहा है और हैदराबाद की जमीन पर भाग्यनगर की बात हो रही है. ऐसे में अब पूरा देश भाग्यनगर का सच जानना चाहता है. क्या भाग्यनगर पॉलिटिकल जुमला है या हैदराबाद की ऐतिहासिक सच्चाई है? वैसे हैदराबाद के इतिहास के बारे में सुना होगा कि कैसे सरदार पटेल के कड़े और बड़े फैसले की वजह से हैदराबाद का भारत में विलय मुमकिन हुआ था.

हैदराबाद में भाग्यनगर को लेकर कई किस्से और कहानियां कही जाती हैं. दावों के पीछे हिस्टोरिकल फैक्ट्स की बात कही जाती है. सैकड़ों सालों पुरानी एक कहानी के मुताबिक भाग्यनगर के पीछे एक लव स्टोरी है. आखिर भाग्यनगर को लेकर इतिहास में क्या प्रमाण हैं? प्रोफेसल अमरजीवा लोचन कहते हैं कि इतिहास में कुछ ऐसे प्रमाण हैं जो बताते हैं कि शहर का नाम पहले भाग्यनगर था जिसे बाद में हैदर और हैदराबाद कर दिया गया.

एक कहानी के मुताबिक भाग्यवती नाम की एक नृत्यांगना थी और उसी नृत्यांगना से जुड़ी है भाग्यनगर की दास्तां. कहानी 500 साल पुरानी है. उस दौर में मौजूदा हैदराबाद की हुकूमत गोलकोंडा राजवंश के सुल्तान कुली कुतुब शाह के हाथों में थी. कुतुब शाह ने ही हैदराबाद शहर को बसाया था. जिसे तब ‘भाग्यनगर’ नाम दिया गया था, वजह थी उनकी प्रेमिका जिसका नाम था भाग्यवती.

कहा जाता है कि 1589 में  कुतुब शाह ने भाग्यवती से शादी की और कुली कुतुब ने गोलकोंडा सल्तनत में शामिल होने के बाद भाग्यवती के नाम पर भाग्यनगर शहर बसाया, जिसे बाद में हैदराबाद नाम मिला. ये कहानियां प्रचलित हैं. लेकिन इसके पीछे का आधार क्या है?

वरिष्ठ इतिहासकार डॉ. अमित राय जैन  और फिरोज बख्त अहमद ने बताया कि इतिहास में जिक्र मिलता है कि हैदराबाद का नाम पहले भाग्यनगर था. इतिहासकार अमित राय जैन ने भी बताया कि सैकड़ों साल पहले भाग्यनगर का नाम बदलकर हैदराबाद रखा गया, उसके पीछे भाग्यवती और कुतुब शाह की लव स्टोरी है, जिसका वर्णन इतिहास में मिलता है.

दो इतिहासकारों ने ये बात कही कि भाग्यनगर का नाम बदलकर हैदराबाद रखा गया और अब हैदराबाद के चुनाव में बीजेपी के नेता हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर रखने की बात कह रहे हैं. ये बात 2018 में योगी ने तेलंगाना विधानसभा चुनाव में भी कही थी. हैदराबाद में बीजेपी एमएलए राजा सिंह भी हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर करने की बात कहते हैं, लेकिन नाम बदलने की सियासत पर ओवैसी सीधा प्रहार कर रहे हैं

बीजेपी ने वोटरों के सामने हैदराबाद का नाम बदल कर भाग्यनगर करने का नैरेटिव सेट किया है, और विपक्ष यही पूछ रहा है कि नाम बदलने से क्या हैदराबाद की तकदीर और तस्वीर बदल जाएगी.

संबंधित पोस्ट

लॉकडाउन में सैलरी आधी होने से वर्कर्स भड़के, कर्नाटक में आईफोन प्लांट में तोड़फोड़ कर आग लगाई

Vande Gujarat News

अहमद पटेल के बाद नहीं चुनकर आया गुजरात से कोई मुस्लिम सांसद, 84 में मिली थी जीत

Vande Gujarat News

આગામી સપ્તાહમાં અરવિંદ કેજરીવાલ બે વખત સોમનાથ આવશે ,

Vande Gujarat News

ગુજરાતના રાજકારણમાં હાંસિયામાં ધકેલાયેલ ક્ષત્રિય સમાજ કરશે શક્તિ પ્રદર્શન, ભરૂચ ખાતે રાષ્ટ્રિય ઉપાધ્યક્ષના અધ્યક્ષ સ્થાને યોજાઈ પત્રકાર પરિષદ

Vande Gujarat News

कोरोना वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने वाले लोगों पर होगी कड़ी कार्रवाई

Vande Gujarat News

ભરૂચના નેત્રંગ પાસે ટાઈલ્સ ભરેલા ટ્રકે 3 બાઈકને અડફેટે લીધા, બે બહેનો સહિત 3 લોકોના મોત, 3 ઈજાગ્રસ્ત

Vande Gujarat News