Vande Gujarat News
Breaking News
AgricultureBJPBreaking NewsFarmerIndiaNationalProtest

सुखबीर सिंह बादल का बड़ा हमला, कहा- देश में बीजेपी है असली टुकड़े-टुकड़े गैंग

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि बीजेपी ने राष्ट्रीय एकता को टुकड़ों में तोड़ दिया है, बेशर्मी से मुसलमानों के खिलाफ हिंदुओं को उकसाया है और अब अपने सिख भाइयों के खिलाफ ऐसा कर रही है.

  • कहा- पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है बीजेपी
  • किसान आंदोलन के दौरान देश को तोड़ने का आरोप लगाया
  • बादल परिवार की ओर से कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा

शिरोमणि अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि बीजेपी देश में असली टुकड़े-टुकड़े गैंग है. साथ ही बादल ने किसान आंदोलन के दौरान देश को तोड़ने का भी आरोप लगाया.

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि बीजेपी ने राष्ट्रीय एकता को टुकड़ों में तोड़ दिया है, बेशर्मी से मुसलमानों के खिलाफ हिंदुओं को उकसाया है और अब अपने सिख भाइयों के खिलाफ ऐसा कर रही है. बीजेपी देशभक्ति वाले पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है.

किसानों को देशद्रोही कहने की हिम्मत कैसे हुई ?

बीते दिनों पहले सुखबीर सिंह बादल ने आंदोलन में खालिस्तानियों की मौजूदगी की अफवाहों को लेकर आक्रामक रुख दिखाया था. उन्होंने कहा था कि इस आंदोलन में कई बूढ़ी महिलाएं भी शामिल हैं. क्या वो खालिस्तानी लगती हैं? यह देश के किसानों को संबोधित करने का कोई तरीका है? यह किसानों का अपमान है.

बादल ने कहा था कि उनकी हिम्मत कैसे हुई हमारे किसानों को देशद्रोही कहने की? बीजेपी या किसी और को, किसानों को देशद्रोही कहने का हक किसने दिया? किसानों ने अपना पूरा जीवन देश के लिए समर्पित कर दिया और आप इन्हें देशद्रोही कह रहे हैं? जो इन्हें देशद्रोही कह रहे हैं, वो खुद देशद्रोही हैं.

हरसिमरत कौर ने दिया था इस्तीफा

बता दें कि बादल परिवार की ओर से कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा है. हरसिमरत कौर बादल ने केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था और केंद्र के नए कानूनों को किसानों के साथ बड़ा धोखा बताया था. सिर्फ इतना ही नहीं सुखबीर बादल ने अकाली दल के NDA से अलग होने का ऐलान करते हुए पंजाब के चुनावों में अकेला लड़ने की बात कही थी.

प्रकाश सिंह बादल ने अवॉर्ड लौटाया था

इसी महीने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और अकाली दल के वरिष्ठ नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानूनों के विरोध में अपना पद्म विभूषण सम्मान वापस कर दिया है. उनके अलावा अकाली दल के नेता रहे सुखदेव सिंह ढींढसा अभी अपना पद्म भूषण सम्मान लौटाने की बात कही थी. बता दें कि प्रकाश सिंह बादल एनडीए के उन नेताओं में रहे हैं, जिनके सार्वजनिक मंचों पर चरण छूकर नरेंद्र मोदी आशीर्वाद लेते रहे हैं. हालांकि, अब कृषि कानूनों पर बीजेपी और अकाली दल आमने-सामने आ गए हैं.

 

संबंधित पोस्ट

अहमद पटेल: 26 साल की उम्र में पहुंचे थे लोकसभा, राजीव के बाद सोनिया के भी बने चाणक्य

Vande Gujarat News

सरकारी विभाग खरीदेंगे सोलर का मेड इन इंडिया सामान, आयात पर निर्भरता कम: मोदी

Vande Gujarat News

बी एल संतोष आज होंगे लखनऊ में मौजूद, शुरू करेंगे बड़े चुनाव की तैयारी

Vande Gujarat News

जब पहली बार किसी गेंदबाज ने पूरी टीम को किया ढेर, 64 साल के बाद भी है विश्व रिकॉर्ड

Admin

बढ़ा हुआ यूरिक एसिड दे सकता है कई बीमारियों को न्योता, घर बैठे ऐसे कर सकते हैं कंट्रोल

Admin

न्यूजीलैंड की संसद में भारतवंशी सांसद डॉ गौरव शर्मा ने संस्कृत में ली शपथ

Vande Gujarat News