Vande Gujarat News
Breaking News
Breaking News Election India National Political

ममता ने किया हिंदू-मुस्लिम विभाजन, मुसलमानों की भलाई से ज्यादा नुकसान : अब्बास सिद्दीकी

तृणमूल सरकार ने केवल मुसलमानों और दलितों को बनाया बेवकूफ, सरकार केवल मुस्लिम समुदाय के लिए अपनी राजनीतिक सेवा करने के लिए  कर रही है बहुत कुछ..

हुगली। हुगली जिले में स्थित अल्पसंख्यकों के मशहूर दरगाह फुरफुरा शरीफ के पीरजादा अब्बास सिद्दीकी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हिंदू मुस्लिम विभाजन का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि ममता ने मुसलमानों की भलाई से ज्यादा नुकसान किया है। मुस्लिम धर्मगुरु ने भारतीय धर्मनिरपेक्ष मोर्चे (आईएसएफ) ने राजनीतिक पार्टी बनाया है। 34 वर्षीय मौलवी कांग्रेस-माकपा के साथ गठबंधन करने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी के एआईएमआईएम से भी गठबंधन की कवायद में हैं।

अब्बास ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में, तृणमूल सरकार ने केवल मुसलमानों और दलितों को बेवकूफ बनाया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनके लिए कुछ नहीं किया है। उन्होंने केवल एक धारणा बनाई है कि यह सरकार केवल मुस्लिम समुदाय के लिए अपनी राजनीतिक सेवा करने के लिए बहुत कुछ कर रही है। सिद्दीकी ने कहा कि “मुस्लिम तुष्टिकरण” की धारणा के कारण हिंदू और मुसलमानों के बीच दरार पैदा हो गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने इसका फायदा उठाया। ममता बनर्जी ने इस धारणा को बनाकर मुसलमानों की भलाई से ज्यादा नुकसान किया है।

अब्बास ने कहा कि उनका नया राजनीतिक संगठन राज्य में ‘किंगमेकर’ साबित होगा, जो लगभग 30 प्रतिशत मुस्लिम मतदाताओं के लिए उम्मीद हैं। वह इस आरोप को भी निराधार मानते हैं कि उन्होंने तृणमूल के मुस्लिम वोट बैंक में कटौती करने के लिए चुनावी अखाड़े में कूदने का फैसला किया है। अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अब्बास ने कहा कि तृणमूल के साथ गठजोड़ की संभावनाएं कम हैं। उन्होंने कहा कि हमने भाजपा से लड़ने के लिए तृणमूल सहित सभी दलों के महागठबंधन का प्रस्ताव रखा था। लेकिन हमारे प्रस्ताव पर तृणमूल से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। इसलिए अब संभावना बहुत कम है।

उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव लड़ने के बारे में उनकी घोषणा के बाद, राज्य सरकार ने आईएसएफ समर्थकों को झूठे मामलों में फंसाकर उन्हें परेशान करना शुरू कर दिया है। हालांकि उन्हें लगता है कि कांग्रेस-वाम गठबंधन और एआईएमआईएम के बीच गठबंधन की संभावनाएं उज्ज्वल हैं। अब्बास ने कहा कि उनके संगठन के दरवाजे तृणमूल और भाजपा को छोड़कर सभी के लिए खुले हैं। अब्बास, जो अपने अनुयायियों द्वारा भाईजान (बड़े भाई) कहे जाते हैं, ने कहा कि हम एआईएमआईएम के साथ भी बातचीत कर रहे हैं। ओवैसी साहब ने कहा कि वे हमारे साथ गठबंधन में बंगाल विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

संबंधित पोस्ट

57 ઇસ્લામિક દેશોએ કાશ્મીરમાં સરકારના પગલાંની ટીકા કરતો ખરડો પસાર કર્યો!

Vande Gujarat News

“દિવ્યાંગ રત્ન 2020” થી વાત્સલ્ય સંસ્થા દીવના જનરલ સેક્રેટરી ઉસ્માનભાઇ વોરા ને જયપુરની ઉમ્મીદ હેલ્પલાઇન ફાઉન્ડેશન દ્વારા સન્માનિત કરવામા આવ્યા

Vande Gujarat News

અલંગ યાર્ડમાં 2 માસમાં 12 પેસેન્જર શિપ ભાંગવા માટે આવે એવા સંજોગો

Vande Gujarat News

सीडीएस ने देखा भारत-फ्रांस का युद्धाभ्यास

Vande Gujarat News

સળંગ બીજા મહિને જીએસટીની આવક રૂપિયા એક લાખ કરોડને પાર

Vande Gujarat News

भारत में हमले के लिए मलेशिया से फंडिंग, RAW ने लगाया पता, जाकिर नाइक से जुड़े हैं तार

Vande Gujarat News